लाभकारी योजनाएं चली अधिकारियों के कंधों पर हो कर सवार पूंजीपतियों के द्वार /शमशी अजीज

0
20

लाभकारी योजनाएं चली अधिकारियों के कंधों पर हो कर सवार पूंजीपतियों के द्वार /शमशी अजीज
जनपद जौनपुर । के विभागो में नियम कानून व आदेशो का कोई महत्व नही रह गया है यहाँ प्रतिदिन जनपद वासियो की ओर से शिकायती पत्र तो आते है परंतु इन शिकायत पत्रों का ढेर ही विभागों में दिखता है उन पर न तो कोई कार्यवाही दिखती है न ही विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों में कार्यवाही के प्रति कोई वार्तालाप होती है आज जिस प्रकार अधिक संख्याओं में जिला अधिकारी कार्यालय विरोध प्रदर्शन देखनो को मिलता है फिर भी केंद्र व राज्य सरकार अपने कार्य के प्रति सचेत नही हो रही है जिस कारण समस्त योजनाएं प्रारम्भ होने से पूर्व ही समाप्ति की ओर अग्रसर हो जाती है या तो प्रशासन इन योजनाओं को धांधली व रिश्वतखोरी को भेंट चढ़ा देती है जबकि कुछ योजनाओं में धंधलिया सिद्ध भी हुई है जैसे शुलभ शौचालय, प्रधानमंत्री व कांशीराम आवास उज्ज्वला गैस योजनाएं इत्यादि इन सभी योजनाओं में धांधली कर पाना तभी सम्भव हो सकता है जब जिला पूर्ति अधिकारी व पूर्ति निरीक्षक व लेखपाल स्वयंम लाभ हेतु इस कार्य की ओर अग्रसर होते है यही कारण है कि सभी योजनाओं का लाभ केवल पूंजीपतियों तक ही सीमित रह जाता है न कि गरीबो तक पहुचता है आज जिस प्रकार नगर में गरीबो की संख्या अधिक हो रही है तथा बेरोजगारी दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है उससे तो ज्ञात होता है कि वो समय दूर नही जब नगर वासी पलायन को विवश हो जाएंगे। अतःसमस्त उच्च अधिकारियों से विन्रम निवेदन है कि समय रहते कार्यवाही करने का प्रयास करे तथा सभी योजनाओं को निष्पक्ष रूप से जन वासियो तक पहुचाने का कष्ट करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here